Breaking News
  • By: Admin
  • Posted On:
  • 19-Jan-2018
  • 63


इस शैक्षिक सत्र से गुजरात में 4,000 छात्रों को अंडरग्रैजुएट मेडिकल कोर्स में दाखिला दिया जा सकता है। दरअसल राज्य के कई कॉलेजों ने सीट बढ़ाने का आवेदन किया है। कुछ नए कॉलेज के लिए भी आवेदन किया गया है। अगर कुछ कॉलेजों को सीट बढ़ाने और नए कॉलेज खोलने की मंजूरी दे दी जाती है तो इससे सीटों की संख्या बढ़कर 4,000 हो जाएगी।

पालनपुर और दाहोड में नए कॉलेज खोलने के लिए आवेदन किया गया है जिसमें से दाहोड के प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया है। पालनपुर में कॉलेज को अनुमति मिलने की उम्मीद है। इसको मिलाकर राज्य में एमबीबीएस की कुल 370 सीट बढ़ सकती है।

सूत्रों ने बताया कि केंद्र सरकार की ग्रीनफील्ड पॉलिसी के तहत बानस डेयरी ने पालनपुर में एक मेडिकल कॉलेज के लिए आवेदन किया था और एक अन्य पार्टी ने दाहोड में। खबरों के मुताबिक, पालनपुर में 150 सीट वाले मेडिकल कॉलेज को केंद्र सरकार अनुमति दे सकती है लेकिन दाहोड में कॉलेज के प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि पालनपुर में कॉलेज की मंजूरी के अलावा मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) ने वडोदरा मेडिकल कॉलेज में 70 सीटों को बढ़ाने की अनुमति दे दी है। इस बढ़ोतरी के साथ ही वडोदरा मेडिकल कॉलेज की क्षमता पहले के 180 छात्रों के मुकाबले अब 250 छात्र हो जाएगी।

एमसीआई ने जामनगर और सूरत मेडिकल कॉलेजों से भी अनुपालन रिपोर्ट मांगी है। इन दोनों कॉलेजों ने 250-250 छात्रों को दाखिला देने की अनुमति मांगी है। मौजूदा समय में इन दोनों कॉलेजों में क्रमश: 200 और 250 सीटें हैं।

अधिकारियों ने बताया कि इन दोनों कॉलेजों को एमसीआई ने अपनी व्यक्तिगत रिपोर्ट भेज दी थी जिनमें कमियों की ओर इशारा कर दिया गया था। अब ये कॉलेज जब अनुपालन रिपोर्ट भेज देंगे तो एमसीआई निरीक्षण करेगा। अधिकारियों ने बताया कि उनको उम्मीद है कि इस शैक्षिक सत्र से जामनगर कॉलेज में 50 और सूरत कॉलेज में 100 और सीटें बढ़ सकती हैं।

इस तरह से राज्य भर में एमबीबीएस की 370 सीटों का इजाफा हो सकता है। अभी राज्य के 24 मेडिकल कॉलेजों में 3,680 सीटें हैं। सीटों में बढ़ोतरी के साथ एमबीबीएस की कुल सीटें 4,000 हो जाएंगी।


Virus-free. www.avast.com