Breaking News
  • By: Admin
  • Posted On:
  • 03-Apr-2018
  • 78


नेशनल इंस्टिट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) इंडिया रैंकिंग जारी कर दी है।  केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर नई रैंकिंग जारी की।  हर साल देशभर के विभिन्न शिक्षण संस्थनों और विश्वविद्यालयों की रैंकिंग सूची मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा जारी की जाती है। आपको बता दें इस वर्ष 9 श्रेणियों के अंतरगत रैंकिंग जारी की जाएगी। इनमें ओवरऑल विश्वविद्यालयों, इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, मेडिकल, आर्किटेक्चर और लॉ आदि शामिल हैं।

शिक्षा मंत्रालय द्वारा इस साल 3 नई श्रेणियां मेडिकल, आर्किटेक्चर और कानून शामिल किए गए हैं। NIRF द्वारा रैंकिंग संस्थानों की शिक्षा, सीखना और संसाधन, रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रैक्टिस, ग्रेजुएशन के नतीजे, पहुंच और समावेशिता और धारणा के आधार पर तय की जाती है।

यूनिवर्सिटी श्रेणी की रैंकिंग में इस वर्ष IISc बेंगलुरु टॉप पर है। वहीं जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) दूसरे नंबर पर और काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) तीसरे नंबर पर है। इंजीनियरिंग में पहले नंबर पर IIT, मद्रास, IIT, बॉम्बे और IIT, दिल्ली है। मैनेजमेंट श्रेणी में IIM-अहमदाबाद ने पहला स्थान, IIM-बेंगलुरु ने दूसरा और IIM-कलकत्ता ने तीसरा स्थान हासिल किया है। फार्मेसी की बात करें तो पहले नंबर पर NIPER, मोहाली; दूसरे नंबर पर जामिया हमदर्द और तीसरे नंबर पर पंजाब यूनिवर्सिटी ने अपनी जगह बनाई है।

टॉप 3 कॉलेजिस में पहले नंबर पर मिरांडा हाउस, दूसरे पर सेंट स्टीफेंस कॉलेज और तीसरे पर बिशॉप हेबर कॉलेज है। मेडिकल श्रेणी में पहला स्थान Top 3 (medical): AIIMS, दिल्ली; दूसरा PGIMER और तीसरा क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज ने हासिल किया है। अंत में आर्किटेक्चर श्रेणी में IIT खड़गपुर ने पहली, IIT रुड़की ने दूसरी और SPA, दिल्ली ने तीसरी जगह हासिल की है। इस साल ‘India Rankings 2017’ में 2995 शिक्षण संस्थानों ने हिस्सा लिया था। हालांकि पिछले वर्ष की तुलना में यह कम है। 2017 में 3,563 शिक्षण संस्थान रैंकिंग में शामिल हुए थे। सरकारी और प्राइवेट- दोनों तरह के शिक्षण संस्थानों ने ही रैंकिंग में हिस्सा लिया। बता दें पिछले साल भी IISc बेंगलुरु को पहला स्थान प्राप्त हुआ था।


Virus-free. www.avast.com