Breaking News
  • By: Admin
  • Posted On:
  • 27-May-2017
  • 136

ग्वालियर

देश के महानगरों और सधन आबादी वाले क्षेत्रों में पार्किंग की अनसुलझी समस्या का समाधान एमिटी के विद्यार्थियों ने एक मोबाइल एप के जरिए किया है। ख़ास बात यह है कि इस स्मार्ट पार्किंग एप को ऑनलाइन ही नहीं, ऑफ लाइन मोड पर भी इस्तेमाल करते हुए पार्किंग स्पेस की तलाश और बुकिंग भी की जा सकेगी।

 एमिटी यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के एचओआई डॉ. राघवेन्द्र शर्मा ने बताया कि प्राध्यापक वैभव अग्रवाल के निर्देशन में एसेट में अध्यनरत स्टूडेंट्स  मिहिर शर्मा, शेनन पॉपली और अंशनी गौर ने 'स्मार्ट पार्किंग एप ईजाद किया है। उन्होंने बताया कि घर से कार निकलते ही मस्तिषक में पहली चिंता यही पैदा होती है कि पार्किंग मिलेगी या नहीं, साथ ही पार्किंग की तलाश में मानसिक तनाव होता है। लेकिन यह एप इस समस्या से निजात दिलाएगा। एमिटी के विद्यार्थियों द्वारा बनाये गए इस स्मार्ट पार्किंग एप को डाउनलोड करके आप कार पार्क करने की जगह आसानी से खोज सकते हैं।

एमिटी स्कूल ऑफ़ इन्जीनियरिंग एंड टेक्नोलोजी के डॉ.हेमंत सोनी ने बताया कि इस एप के जरिए वाहन चालक पता लगा सकते हैं कि किसी खास इलाके में पार्किंग की सबसे सही जगह कौन सी होगी। इसके साथ चेक इन कर अपने ई-वॉलिट से कैशलेस पेमेंट भी कर सकते हैं। इसकी खासियत यह है कि अगर आपके फोन में इंटरनेट नहीं है तो आप ऑफलाइन सर्विस का यूज करते हुए कार पार्क कर सकते हैं। पार्किंग के एंट्रेंस में लगे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन डिवाइस रीडर कार को पहचान लेंगे और पार्किंग का गेट अपने आप खुल जाएगा।

 इसके बाद आपके फोन में नोटिफिकेशन के साथ एंट्री टाइम की एक ई-रिसिप्ट भी मिल जाएगी। इस एप के जरिए आप रियल टाइम में देख सकते हैं कि पार्किंग की सबसे अ'छी और नजदीक जगह कौन सी है। लोकेशन और समय के हिसाब पार्किंग बुक की जा सकेगी। वहीँ अगर पार्किंग बुक करने के बाद किन्हीं कारणों से आप बुकिंग कैंसिल करना चाहते हैं तो बुक करने के उपरान्त एक निश्चित अवधि के दौरान बुकिंग कैंसिल कर रिफंड भी प्राप्त सकेंगे।

 


Virus-free. www.avast.com