• Posted by admin on Date Nov 8, 2018
    31 Views No Comments

    Career in Law : लॉ के क्षेत्र में ये हैं स्पेशलाइजेशन कोर्स

    career in law in india in hindi

    अगर आप यह सोचते है कि लॉ की पढ़ाई करने के बाद सिर्फ वकील ही बन सकते है तो ऐसा नहीं है। करियर की दृष्टि से देखे तो आज लॉ एक ऐसा प्रोफेशन बन चुका है , जहां आपके पास करने के लिए काफी कुछ है। वकील के अलावा आप बतौर कानून विशेषज्ञ विभिन्न क्षेत्रों में अपनी सेवाएं दे सकते हैं।

    साइबर लॉ-

    इस कानून के तहत साइबर क्राइम से जुड़े मुद्दों पर कानूनी जानकारी दी जाती है।  उनसे कैसे निपटा जाए, उनके लिए सजा का क्या प्रावधान है आदि।

    क्रिमिनल लॉ-

    इस कानून का अध्ययन हर स्टूडेंट्स को करना पड़ता है। इसके अध्ययन से ही क्राइम और उसकी प्रति कानूनी प्रावधान की जानकारी हासिल होती है।

    फैमिली लॉ-

    यह पारिवारिक मुद्दों से संबंधित होता है। इस लॉ के तहत तलाक, गोद लेने, पर्सनल लॉ, शादी, गार्जियनशिप एवं अन्य पारिवारिक मामले आते है।

    बैंकिंग लॉ-

    बैंकिंग के तहत लोन, लोन रिकवरी बैंकिंग एक्सपर्ट आदि से संबंधित कार्यो का निपटारा करता है।

    कॉपोरेट लॉ-

    कॉपोरेट लॉ के अतर्गत संसार में होने वाले अपराधो के लिए नियम और कानून का अध्ययन किया जाता है। कॉपोरेट कानूनों से कॉपोरेट सेक्टर में होने वाले अपराधों को रोकने के लिए तथा फाइनेंस प्रोजेक्ट, टैक्स लाइसेंस और जॉइंट स्टॉक से संबंधित काम किए जाते है।

    टैक्स लॉ-

    टैक्स लॉ के अंतर्गत सभी प्रकार के टैक्स, सेल टैक्स , इंकम टैक्स आदि से जुड़ी समस्याओं का समाधान निकाला जाता है।

    पेटेंट अटॉर्नी

    पेंटेंट अटॉर्नी ऐसा अधिकार है जिसके तहत कोई व्यक्ति किसी वस्तु पर अपना पूर्ण आधिपत्य रखता है। उसकी मर्जी या सहमति के बिना कोई अन्य व्यक्ति उस अधिकार का प्रयोग नहीं कर सकता है।

    ये भी पढ़ें

    IIM Calcutta : डॉक्टरल फेलो प्रोग्राम के लिए करें आवेदन, जाने डिटेल

    CBSE : लिस्ट ऑफ कैंडीडेट्स सबमिट करने की तिथि बढ़ी

    NEET EXAM 2019: परीक्षार्थियों को ऑन स्पॉट मिलेंगे पैन, जाने एग्जाम पैटर्न

    BHU 100th Convocation : बीएचयू का 100वें दीक्षांत समारोह होगा यादगार

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *