• Posted by admin on Date Sep 30, 2018
    50 Views No Comments

    CBSE : 10 वीं बोर्ड में मैथ के दो पेपर का ऑप्शन मिल सकता है

    CBSE-board-exams

    नई दिल्ली

    सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने 10 बोर्ड के स्टूडेंट्स के लिए एक अहम  फैसला लिया है। अब सीबीएसई की दसवीं की एग्जाम में स्टूडेंट्स को मैथ्स के दो पेपर का ऑप्शन दिया जा सकता है।स्टूडेंट्स को एग्जाम फॉर्म भरने के दौरान दोनों में से एक ऑप्शन को चुनना होगा। स्टूडेंट्स फॉर्म भरने के दौरान स्टैडर्ड लेवल या फिर हायर लेवल के मैथ्य क्वेश्चन का विकल्प चुन सकते है।

    आपको बता दे कि मई में एक रिपोर्ट में कहा गया था कि बोर्ड मैथ के दो पेपर सेट का ऑप्शन पर विचार कर रहा हैहालंकि एग्‍जाम का सिलेबस पहले के जैसा ही रहेगा। मगर इस बार से मैथ्‍स के संबंध में दो स्‍तरों पर बच्‍चों की परीक्षा लेकर उनका निर्धारण किया जाएगा। जो छात्र हायर स्‍तर पर मैथ्‍स को नहीं पढ़ना चाहते उनके लिए मैथ्‍स का साधारण पेपर चुनने का ऑप्‍शन होगा। सीबीएसई के अधिकारियों का कहना है कि इस साल 2019 की परीक्षाओं में इस पैटर्न को एक पायलट प्रॉजेक्‍ट की तरह चलाया जाएगा। अगर यह पैटर्न सफल रहता है तो इसे आगे 12वीं की परीक्षा में भी लागू किया जा सकता है।

    इससे पहले बोर्ड ने 10वीं के मैथ्‍स के पेपर को लेकर फैसला लेने के लिए 15 सदस्‍यीय समिति का गठन किया है। जिसमें गणित के विशेषज्ञ, विश्वविद्यालयों, स्कूलों और एनसीईआरटी के विशेषज्ञ होंगे। नैशनल करिकुलम फ्रेमवर्क के दस्तावेज बताते हैं कि गणित और अंग्रेजी से शुरू करके सभी विषयों की बोर्ड को दो स्तरों पर जांच करनी चाहिए। उनका कहना है कि छात्रों को हायर और स्‍टैंडर्ड लेवल के पेपर सॉल्‍व करने का ऑप्‍शन होना चाहिए।

    ये भी पढ़ें

    NIOS : दिसंबर में होगा तीसरा D.El.ED  एग्जाम

    IITTM: यहां से कर सकते है ट्रैवल व टूरिज्म का कोर्स

     

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *