• Posted by admin on Date Dec 27, 2018
    155 Views No Comments

    CBSE CLASS 10 BOARD EXAM TIPS : ऑर्गेनाइज्ड स्टडी है सही स्ट्रैटजी

    how to prepare for board exam

    CBSE CLASS 10 BOARD EXAM TIPS : क्लास 10वीं के स्टूडेंट्स बोर्ड एग्जाम के समय काफी नर्वस हो जाते है, जिससे उनकी पढ़ाई काफी डिस्टर्ब होती है। ऐसा तब होता है जब हमारी स्टडी ऑर्गेनाइज्ड तरीके से नहीं होती है  और स्टूडेंट्स केयरलेसनेस के साथ एग्जाम की तैयारी करते है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि स्टूडेंट्स प्री- बोर्ड एग्जाम की अपनी परफॉरमेंस को एनालाइझ करें और उसकी आधार पर हर सब्जेक्ट की प्रिपरेशन करें।अगर आप भी इस साल बोर्ड एग्जाम मे अपियर होने वाले हैं, तो इस बचे हुए 45 महीने में टाइम का सही यूटिलाइजेशन करके अपन प्रिपरेशन को बेहतर बना सकते हैं और एग्जाम में अच्छे मार्क्स ला सकते हैं।

    सही प्लानिंग और प्रॉपर स्टडी शिड्यूल बनाएं

    स्टूडेंट्स को अपने लिएए एक टाइम टेबल जरूर बनाना चाहिए, इसे तैयार करते समय अफने वीक एरियाज को एक्स्ट्रा टाइम जरूर दें ताकि आपको डिफिकल्ट टॉपिक्स समझने और उन्हें प्रिपेयर करने का ज्यादा समय मिल सकें। टाइमटेबल बनाने से आपको डेली हर सब्जेक्ट प्रिपेयर करने का टाइम भी मिलता है और आप अपने अनुसार वीक और स्टॉन्ग सब्जेक्ट्स की प्रायोरिटी भी तय कर पाते हैं। चूंकि अब एग्जाम में समय कम है इसलिए सभी स्टूडेंट्स के लिए टाइमटेबल बनाना और उसे फॉलों करना बहुत जरूरी है। इस दौरान रिवीजन या लर्निंग वर्क के लिए हमेशा सुबह का टाइम डिसाइड करें।

    CBSE CLASS 10 BOARD EXAM TIPS क्वेश्चन्स की डेली प्रैक्टिस करें

    साइंस, मैथ्स या फिर हिस्ट्री, ज्योग्राफी जैसे सब्जेक्ट्स में अच्छे नंबर लाने के लिए हर चैप्टर से रिलेटेड फॉर्मूले, लेबलिंग के साथ डायग्राम्स, थ्योरम्स, छोटी डेफिनिशन्स, इंपॉर्टेंट इवेंट्स और डेट्स के लिए अलग से नोट्स बनाएं औऱ रोज सुबह उठकर सबसे पहले इन्हें पढ़ें फिर कुछ और पढ़ें। इस तरह रोज दिन में दो –तीन बार यह नोट्स पढ़ने से आपको अलग से इन्हें याद करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह शॉर्ट ऑन्सर्स के साथ –साथ लॉन्ग ऑन्सर्स में भी अच्छे नंबर लाने में बहुत हेल्पफुल साबित होंगे। इसी तरह मैथ्स के उन चैप्टर्स के क्वेश्चन भी डेली सॉल्व करने की प्रैक्टिस करें, जो आपको टफ लगते है। इससे आपकी प्रैक्टिस भी होगी और आप उन्हें जल्दी भूलेंगे भी नहीं।

    फ्लो चार्ट्स या डायग्राम्स की ले हेल्प

    कुछ नया पढ़ते या याद करते समय डायग्राम या फिर फ्लो चार्ट्स की मदद लेना काफी अच्छा आइडिया है। इससे आपको हिस्ट्री जैसे लेंदी टॉपिक्स के ऑन्सर्स याद करने में भी प्रॉब्लम नहीं आएगी। आप फ्लो चार्ट्स बनाकर इंपॉर्टेंट इवेंट्स को स्टेप बाय स्टेप लिख सकते हैं और फिर उसे फूरे सीक्वेंस को अपने वर्ड्स में लिख सकते हैं। इस तरह आपको आंसर रटना नहीं पड़ेगा और आपको हिस्टोरिकल इवेंट्स भी क्लियर रहेंगे। इसी तरह डायग्राम्स बनाकर आप साइंस के अलग-अलग टॉपिक्स की प्रिपरेशन भी कर सकते हैं।

    CBSE CLASS 10 BOARD EXAM TIPS प्रीवियस ईय़र के पेपस सॉल्व करें

    स्टूडेंट्स को इस समय रोज एक प्रीवियस क्वेश्चन पेपर जरूर सॉल्व करना चाहिए। इससे उनमें एग्जाम क्लियर करने का कॉन्फिडेंस बढ़ता है, एग्जाम प्रेशर नहीं रहता और फॉर्मेट को लेकर कंफ्यूजन भी दूर होता है। पेपर्स सॉल्व करते समय क्वेश्चंस के लिए एलॉटेड नंबर पर ध्यान जरूर दें और उतने ही शब्दों का आंसर लिखें इस दौरान टाइम का भी ख्याल रखें, तभी आपको एग्जाम में इसका फायदा नजर आएगा।

    ये भी पढ़ें

    MPBSE Class 10th, 12th Timetable 2019: 10वीं 12वीं का टाईम टेबल जारी यहां देखे

    IIT Kanpur MBA Admission 2019 : आईआईटी कानपुर से हासिल करें एमबीए की डिग्री

    AME CET 2019 : एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरिंग कोर्स में आवेदन प्रक्रिया शुरू, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *