• Posted by admin on Date Aug 22, 2018
    159 Views 1 Comment

    केंद्र सरकार ने बदला फैसला अब साल में एक बार ही होगा NEET

    national testing exam

    नई दिल्ली

    मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए हर साल होने वाली नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेस टेस्ट साल में एक बार ही आयोजित किया जाएगा। इस परीक्षा को पहले की ही तरह पेन-पेपर मोड़ में होगा। एचआईडी मिनिस्ट्री ने जुलाई में कहा था कि इस साल से NEET एग्जाम साल में दो बार आयोजित की जाएगी और परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से होगा। लेकिन हेल्थ मिनिस्ट्री के कहने पर इस फैसले को वापस ले लिया गया है।

    इस साल से नीट एग्जाम सहित कई महत्वपूर्ण परीक्षा जैसे जेईई मेंस, नेट,सीमैट , जीपैट एग्जाम नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कराएगी। एनटीए ने दिसंबर 2018 से मई 2019के बीच होने वाली एग्जाम की तिथि की घोषणा कर दी है। एनटीए के मुताबिक नेट इस साल 9 से 23 दिसंबर के बीच होगा और 10 जनवरी का रिजल्ट घोषित होगा। जेईई मेन्स- 1 अगले साल 6 से 20 जनवरी के बीच होगा और इसका नतीजा 31 जनवरी को घोषित होगा। जेईई मेन्स- 2 अगले साल 6 से 20 अप्रैल के बीच होगा और इसका नतीजा 30 अप्रैल को घोषित होगा।

    सीमैट और जीपैट अगले साल 28 जनवरी को होगा और इसका नतीजा 10 फरवरी को बताया जाएगा। ये सभी एग्जाम कंप्यूटर बेस्ड होंगे। हालांकि पहले NEET को भी कंप्यूटर बेस्ड करने का ऐलान किया गया था लेकिन अब वह फिलहाल पेन-पेपर मोड पर ही होगा। NEET अगले साल 5 मई को होगा और इसका नतीजा 5 जून को आएगा।

    NTA ने घोषित किया UGC-NET, JEE-main, NEET-UG, GPAT और CMAT का शेड्यूल

    UGC NET 2018: CBSE ने जारी किए मार्क्स, cbsenet.nic.in पर करें चेक

    भारत के टॉप 100 सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेज , देखे लिस्ट

  • One Reply to “केंद्र सरकार ने बदला फैसला अब साल में एक बार ही होगा NEET”

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *