• Posted by admin on Date Nov 6, 2018
    179 Views No Comments

    MBBS स्टूडेंट्स को अब पढ़ना होगा ये दो नए विषय

    new syllubus for mbbs student

    मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने एमबीबीएस के नए पाठ्यक्रम को मंजूरी प्रदान कर दी है। साल 2019-20 के लिए पाठ्यक्रम में दो नए कोर्स शामिल किए गए है। ये नए कोर्स अंडरग्रेजुएट स्टूडेंट्स के लिए बनाई गई है। जिसमें पहला कोर्स एथिक्स और दूसरा है कम्यूनिकेशन। इन कोर्स के जरिए डॉक्टर में मरीज के प्रति सहानुभूति की भावना पैदा होगी साथ ही साथ सही तरीके से संवाद करने के गुर सिखाया जाएगा। प्रशिक्षण के चरण से ही वह सीख पाएंगे कि मरीजों का इलाज करने के अलावा उनसे कैसे प्रभावी ढंग से बातचीत की जाए।

    इसके साथ ही एमसीआईन ने मेडिकल फैकल्टी की कमी को दूर करने के लिए उनकी योग्यता में कुछ छूट प्रदान की है। आपको बता दें कि आज भी कई मेडिकल संस्थानों में फैकल्टी की काफी कमी है। ऐसे में एम्स, पीजीआई और अन्य मेडिकल कॉलेजों में पढ़ाने के लिए डिप्लोमा ऑफ नेशनल बोर्ड डिग्री होल्डर्स के लिए शर्तो का आसान करने का प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है।

    कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल का अपना मेडिकल कॉलेज नहीं होता है। अभी वहां के डीएनबी डॉक्टरों को पोस्टग्रैजुएशन नैशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन (एनबीई) से करना होता है। लेकिन नए प्रस्ताव के मुताबिक, अगर कोई डीएनबी डिग्री होल्डर्स अगर 100 बिस्तरों वाले और सुपर स्पेशलिटी प्राइवेट हॉस्पटिल में काम कर रहा है तो वह एमसीआई से मान्यता प्राप्त किसी संस्थान में सीनियर रेजिडेंशी के तौर पर एक साल और पूरा करने के बाद फैकल्टी के तौर पर पढ़ा सकेंगे। बोर्ड के चेयरमैन डॉ.विनोद पॉल ने बताया कि इस बारे में जल्द ही एक नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा।

    ये भी पढ़ें

    IIM Calcutta : डॉक्टरल फेलो प्रोग्राम के लिए करें आवेदन, जाने डिटेल

    NEET EXAM 2019: परीक्षार्थियों को ऑन स्पॉट मिलेंगे पैन, जाने एग्जाम पैटर्न

    NEET PG 2019: नीट पीजी के लिए एडमिशन शुरु, करें आवेदन

    NEET में 35 परसेंटाइल पाने वाले अभ्यार्थी को आयुष कॉलेजों में मिल सकेगा एडमिशन

     

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *