• Posted by admin on Date Oct 17, 2018
    85 Views No Comments

     और भी हैं रास्ते इंजीनियरिंग के सिवाय

    how to prepare for ugc net exam

    यह सही है कि बारहवी के बाद (course after 12) पीसीएम से करते हैं , उनका पहला ध्यये इंजीनियरिंग ही होता है।  लेकिन हमें कोई भी करियर चुनते समय  अन्य करियर विकल्पों को अपनी  क्षमता और रूचि के साथ जोड़कर देखना चाहिए। आईए बात करते हैं इंजीनियरिंग(engineering) के अलावा पांच ऐसे करियर विकल्पों की जिसमें पीसीएम के छात्रों के लिए प्रचुर संभावनाएं है।

     आर्किटेक्चर

    यदि आपकी रूचि ड्राइंग और स्केचिंग में हो और बड़ी इमारतें आपको आकर्षित करती हों तो पीसीएम के बाद 5 साल  वाले बीआर्क यानी बैचलर इन आर्किटेक्चर में दाखिला लें। इसके लिए आपको एक विशेष ऑनलाइन परीक्षा से गुजरा होगा , जिसे नाटा यानी नेशनल एप्टिट्यूट टेस्ट फॉर आर्किटेक्चर  में दाखिला लें। इसके लिए आपको एक विशेष ऑनलाइन परीक्षा से गुजरना होगा, जिसे नाटा यानी नेशनल एप्टिट्यूट टेस्ट फॉर आर्किटेक्चर कहते है। मान्यता प्राप्त संस्थानों की सूची भारत सरकार की संस्था काउंसिल ऑफ आर्किटेक्चर की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

    नेशनल डिफेंस अकादमी

    यदि आप में देश सेवा की भावना है और इसके साथ एक स्वर्णिम भविष्य की तलाश में है तो इसके लिए एनडीए यानी नेशनल डिफेंस एकेडमी से बेहतर दूसरा कोई विकल्प नहीं हैा यूपीएससी द्वारा साल में दो बार ली जाने वाली इस परीक्षा में बैठने के लिए आवेदन की निश्चित जानकारी के लिए वेबसाइट देखें।

    लॉ

    पीसीएम के स्टूडेंट्स के लिए पांच वर्षीय बीएससी एलएलबी लॉ इंटिग्रेटेड कोर्स भी एक बेहतर विकल्प है । क्लैट यानी कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट माध्यम से देश की लॉ यूनिवर्सिटी आपको इस कोर्स में दाखिला दे सकती है।

    पत्रकारिता

    बारहवी के बाद आप पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बना सकती है। बारहवीं पास करने के बाद आप तीन साल का मास कम्युनिकेश में ग्रेजुएशन डिग्री हासिल कर सकते है। इसके बाद आप चाहे तो दो साल की मास्टर डिग्री भी कर सकते है। कई संस्थानों में जर्नलिज्म के लिए एक साल का डिप्लोमा कोर्स भी संचालित किया जाता है।

    फैशन डिजाइनिंग

    फैशन डिजाइनिंग का क्षेत्र काफी व्यापक है। बारहवीं के बाद स्टूडेंट्स विभिन्न कॉम्पीटिशन एग्जाम्स को फेस कर इस क्षेत्र में प्रवेश पा सकते है। अच्छे संस्थानों से इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स अपने मंजिल का आसानी से प्राप्त कर सकते है।

    ये भी पढ़े

    बायोइंफॉर्मेटिक्स में करियर के असीम संभावनाएं

    भारत के टॉप लॉ यूनिवर्सिटी , देखें रैंकिंग

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *