• Posted by admin on Date Nov 24, 2018
    133 Views No Comments

    NEET एग्जाम के बिना भी आयुर्वेद और यूनानी कोर्स में ले सकेंगे एडमिशन

    आयुर्वेद और यूनानी कोर्स

    आयुष की स्नातक (यूजी) सीट पर अब बिना नीट एग्जाम दिए स्टूडेंट्स भी एडमिशन पा सकते है। आयुर्वेद और यूनानी में बिना नीट वाले अभ्यर्थियों के लिए 26 से 30 नवंबर तक आवेदन मांगे गए हैं। वहीं, यूजी सीट के लिए ही 25 नवंबर तक वह अभ्यर्थी भी आवेदन कर सकते हैं, जो कि नीट की परीक्षा में शामिल हुए हों।

    हाईकोर्ट से आदेश मिलने के बाद आयुर्वेद निदेशक डॉ. एसएन सिंह ने शासन के निर्देशानुसार यह दोनों ही आदेश दो दिन पहले जारी कर दिए हैं। आवेदन आमंत्रण के लिए विज्ञापन भी जारी कर दिया गया है। ऑनलाइन आवेदन वेबसाइट (www.dirayushupneet.com) पर मांगा गया है। पूरे प्रदेश में आयुर्वेद व यूनानी के निजी कॉलेजों की अभी करीब तीन हजार से अधिक यूजी सीटें खाली रह गई हैं।

    नीट शामिल वाले 25 तक करें आवेदन

    डॉ. एसएन सिंह के मुताबिक आयुर्वेद और यूनानी की स्नातक की रिक्त सीटों के लिए मॉपअप राउंड के तहत 21 से 25 नवंबर तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए नीट में शामिल हुए अभ्यर्थियों से आवेदन मांगें गए हैं।

    इनकी काउंसलिंग 29 और 30 नवंबर को गोमती नगर हैनीमैन चौराहा स्थित नेशनल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज एवं चिकित्सालय में ऑफलाइन होगी। फिर अभ्यर्थियों को कॉलेज की सीटों पर आवंटन दिया जाएगा।

    इंटरमीडिएट पास के आवेदन मांगे

    निदेशक डॉ. सिंह ने बताया कि नीट में शामिल होने अभ्यर्थियों को सीटें आवंटित करने के बाद भी यदि सीट रिक्त रह जाएंगी तो कोर्ट के आदेश के तहत इंटरमीडिएट पास अभ्यर्थियों के लिए भी काउंसलिंग की जाएगी।

    इसके लिए इंटरमीडिएट पास छात्रों से ऑनलाइन आवेदन 26 से 30 नवंबर तक मांगे गए हैं। इसमें आयुर्वेद में इंटरमीडिएट में भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र और जीव विज्ञान विषय में कम से कम 50 फीसदी अंक और अंग्रेजी विषय की परीक्षा पास की हो। ऐसे ही यूनानी के लिए इंटरमीडिएट में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान विषय के साथ उर्दू विषय की परीक्षा कक्षा 10 के समकक्ष की पास की हो।

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tags: